गलत कथन का समर्थन और विरोध लोग अपने अपने तरीके से करते आये हैं!
विरोध करने के अपने अपने मानक होते हैं कोई रोड़ जाम करता है कोई धरना देता है तो कोई पुतला फूकता है!
हिन्दुत्त्व पर ग़लत बोलना योग राज को भारी पड़सकता है!
उसके विरोध में कई संगठन हिंदूवादी संगठन उतर आये हैं!
एक ऐसा ही मामला आगरा बोदला पुलिस चौकी पर उस समय देखने को मिला ज़ब एक संगठन के कुछ लोग विना प्रशासन की अनुमति के पुटका फूंकना चाहते थे लेकिन चौकी इंचार्ज प्रदीप व मौजूद पुलिस बल की सजगता और सूझबूझ से पुतला नहीं फूक सके!
विना किसी अग्रिम सूचना के घनी आबादी में पुतला फूंकना या आग जलाना घातक होजाता और कोई अप्रिय घटना घटित होसकती थी!
उम्मीद है किसी भी संघठन के कार्यकर्त्ता इस तरह का कार्यक्रम करने से पहले अनुमति लेना उचित समझेगें!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here