सरकार की लाख कोशिश के बाद भी अधिकार्यों की सुस्ती दूर होने का नाम नहीं लेरही!
तमाम योजनाओं पर जनता का पैसा पानी की तरह बहाया जाता है!
यूँ तो आगरा स्मार्ट सिटी घोषित हो ही गया है लेकिन इस शहर को कूड़ा कचड़ा और अव्यवस्थाओ के शहर में तब्दील करने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी जारही है!
आगरा के सिकंदरा क्षेत्र आवास विकास में एक शानदार पार्क है जिसे सेन्ट्रल पार्क व सूर वाटिका के नाम से जाना जाता है जहाँ सैकड़ो परिवार टहलने व अपने बच्चों को घुमाने आते हैं! पार्क में झूले टूटे पड़े हैं जिसपर झूलना किसी खतरे से खाली नहीं है!
जरासी लापरवाही बच्चों को जोटिल कर सकती है उन्हें घायल कर सकती है!
पार्क के सौंदर्यकरण पर करोड़ों रूपये खर्च होने के बाद भी पार्क की दुर्दशा होरही है किसी जन प्रतिनिधि व अधिकारी इस पर ध्यान नहीं देरहे!
अधिकारी किसी बड़े हादसे का इंतजार कर रहे हैं!
कई प्रयासों के बाद भी वहाँ की व्यवस्था ठीक होने का नाम नहीं लेरही!
अब देखना ये होगा कि अधिकारी इन झूलों को कब तक ठीक कराते हैं!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here