देश विदेश एवं ब्रजमंडल की प्रसिद्ध मथुरा के कंकाली देवी मंदिर पर शारदीय नवरात्रों के चौथे दिन मां के कूष्मांडा स्वरूप का किया पूजन लगे जयकारे मांगी जा रही मन्नत है आपको बता दें कि आज चतुर्थ कुसमुंडा देवी की पूजा की जा रही है मानता है कि ब्रह्मांड की रचना करने वाली देवी भगवती के चौथे स्तंभ मां कुष्मांडा की पूजा आज की जाती है इनकी क्रांति और आभा सूर्य के समान है जब सृष्टि नहीं थी तब देवी के कुरसंडा स्वरूप ने ही इस सृष्टि का विस्तार किया था मां का यह स्वरूप अन्नपूर्णा का है सुकुमारी रूप धर देवी ने शार्क से धरती को पलवित किया और शताक्षी बनकर असुरों का संहार किया यह प्रकृति और पर्यावरण की अधिष्ठात्री देवी हैं क्रूस मंडा देवी की आराधना के बिना जप और ध्यान संपूर्ण नहीं होते नवरात्रि के चौथे दिन साग सब्जी और अन्य का दान फलदाई होता है माता के इस रूप में प्राप्ति और संतुष्टि दोनों होती हैं कंकाली देवी मंदिर पर नवरात्रि के चौथे दिन मां के भक्तों ने मां से मांगी सुख शांति एवं समृद्धि की दुआएं देवी मंदिर में सुबह से भक्तों की लगी भीड़ की जा रही पूजा अर्चना

मथुरा उत्तर प्रदेश से कैमरामैन भक्ति प्रिया भानु प्रिया गोस्वामी अर्चना गुड़िया रानी के साथ स्पेशल रिपोर्ट डॉ केशव आचार्य गोस्वामी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here