शहर में लगातार चली आ रही जलभराव की समस्या खत्म होने का नाम ही नहीं ले रही। ऐसा ही मामला थाना जगदीशपुरा क्षेत्र के बोदला रोड स्थित दुष्यंत नगर मैं देखने को मिला जहां कई सालों से सड़क पर गहरे गड्ढों की वजह से जलभराव की स्थिति बनी रहती है जिसके चलते क्षेत्रीय लोग बदहाल की जिंदगी जीने को मजबूर हैं

शहर भर में चली आ रही जलभराव की समस्या जी का जंजाल बनी हुई नजर आ रही है ऐसा ही मामला थाना बोदला रोड स्थित दुष्यंत नगर में देखने को मिला। जहां लोगों को  रोजाना बदहाली की जिंदगी जीने को मजबूर हैं । लोगों को सड़क पर चलने के लिए गड्ढों से जूजना पड़ता है। क्षेत्रीय लोगों का कहना है कि क्षेत्र में दो हॉस्पिटल होने के बावजूद भी समस्या का कोई समाधान नहीं हुआ और आए दिन अधिकारियों और नेताओं का आना जाना भी यहां से लगा रहता है ऐसे में भी किसी की नजर यहां की बदहाल पड़ी सड़कों पर नहीं जाती। ऐसे में क्षेत्र में कई सालों से ऐसी ही स्थिति देखने को मिल रही है, बरसात में हालात तो यहां पर बेहद नारकीय हो जाते हैं आवागमन पूरी तरह बाधित हो जाता है साथ ही जलभराव के चलते कीड़े मकोड़े के साथ-साथ मच्छर का खतरा भी बढ़ जाता है जिससे संक्रमण फैलने का खतरा भी बना रहता है, क्षेत्री लोगों का कहना है कि कई बार नगर निगम के अधिकारी बा स्थानीय जनप्रतिनिधियों से भी मामले की शिकायत स्थानीय लोगों द्वारा की गई मगर तमाम प्रयासों के बावजूद भी यहां की अब तक किसी ने सुध नहीं ली है सड़कों में गड्ढे या फिर गड्ढों में सड़क समझ नहीं आता जलभराव के दौरान आए दिन यहां पर हादसे होने का डर भी बना रहता है बावजूद इसके कोई अधिकारी कोई जनप्रतिनिधि इस ओर ध्यान नहीं दे रहा है समय रहते यहां के हालातों का संज्ञान नहीं लिया गया तो भविष्य में कोई बड़ा हादसा यहां हो सकता है
रिपोर्ट–हरीश यादव कैमरा–अर्जुन सिंह

योगी सरकार के गड्ढा मुक्त प्रदेश के सपने को लगा पलीता

ताज नगरी में कई जगहों पर गड्ढे कर रहे हैं बड़े हादसे का इंतजार

बोदला रोड स्थित दुष्यंत नगर क्षेत्र में भी बदहाल हालत में पड़ी हैं सड़कें

तमाम शिकायतों के बावजूद भी कोई सुनवाई नहीं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here