बिहार सरकार के घोषणा के वाबजूद भी बिहार मे पुर्ण शराब बंदी का असर नहीं हुआ।हम बात कर रहे है खगड़िया बेलदौर की जहाँ शराबी और शराब कारोबारी फलफूल रहा है।देसी एवं विदेशी शराब कई बार पकड़ाया तब भी शराब कारोबारी जहरीली देसी शराब बेचेने से बाज नहीं आते।वही बेलदौर थाना क्षेत्र के स्थानीय पंचायत ग्राम कचहरी रोड में पुलिस की गाड़ी देख शराब कारोबारी साइकिल पर लढ़े शराब की बोरी छोड़कर फरार हो गया।शराब विक्रेता गौशाला पथ होकर साइकिल लाद कर शराब बिक्री के लिए ले जा रहा था । रामफल साह घर के नजदीक पुलिस को देख कर साइकिल पर लदे जूट के बोरी में मुंह बांधा देसी शराब के बोरी छोड़कर फरार हो गया। वही बेलदौर थाना के asi मो. मनीर को सफलता मिली ।शराब कारोबारी की शिनाख्त की जा रही है।

वहीं बेलदौर पंचायत के वार्ड नंबर 16 में शराब के नशे में अपने परिजनों को गाली गलोज कर रहे थे। वही उक्त शराबी के परिजन महादेव शर्मा ने अपने 30 वर्षीय पुत्र जितेंद्र कुमार के विरुद्ध पिता ने बेलदौर थाना को आवेदन दिए । पिता के आवेदन पर बेलदौर पुलिस ने शराब के नशे में युवक को गिरफ्तार कर थाना लाए। वही शराबी के पिता का कहना है कि कि मेरे पुत्र शराब का कारोबार करता था। यह गलत कारोबार है मना करने पर गाली गलौज के साथ मारपीट करने लगता। बेलदौर पुलिस के एसआई मोहम्मद मनीर गिरफ्तार कर दिन के करीब 3 बजे बेलदौर थाना लाए। वही शराबी का मेडिकल शाम के 7 बजे कराया गया। जब पुलिस किसी भी शराबी को पकड़कर लाते हैं तो तुरंत शराबी का मेडिकल किया जाता है। करीब 4 घंटे के बाद शराबी का मेडिकल कराया गया इसके पीछे क्या कारण था । कहीं मोटी रकम लेकर छोड़ने का।
पुलिस प्रशासन बाइट देने से इनकार कर दिया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here