रामपुर में इलाज के बहाने तांत्रिक ने नाबालिग से किया दुष्कर्म
तथाकथित झोला छाप और तंत्र विद्या के नाम पर अय्याशी करने वाले ने नाबालिग को बताया अपनी पत्नी
पीड़िता के घर भेजा नोटिस |

उत्तर प्रदेश के रामपुर से सनसनीखेज मामला सामने आया है जहां इलाज के नाम पर एक नाबालिग लड़की से लगातार काफी समय तक बलात्कार किया गया !
दरअसल लड़की को दौरे पड़ने की शिकायत थी जिसके लिए परिजन उसे एक झोलाछाप डॉक्टर के पास ले गए जहां लगभग एक महीने तक इलाज के बाद भी लड़की की स्थिति में कोई सुधार नहीं आया जिसके बाद झोलाछाप डॉक्टर ने ऊपरी हवा( भूत प्रेत) का साया बता कर लड़की का इलाज तंत्र से करने का दावा किया । आरोप है कि तंत्र से इलाज करने के नाम पर उसने लड़की को अकेला कमरे में बंद करके उसके साथ दुष्कर्म किया। और जब लड़की के परिजनों ने उसे बदहवास पाया तो झोलाछाप डॉक्टर परिजनों पर भड़क उठा और उन्हें वहां से भगा दिया। और अब उस झोलाछाप डॉक्टर ने लड़की के परिवार को नोटिस भेजा है जिसमें वह लड़की को अपनी पत्नी होने का दावा कर रहा हैं !
फिलहाल पुलिस ने इस मामले में मुकदमा दर्ज कर लिया है । वही पुलिस के अधिकारियों द्वारा इस मामले में जांच उपरांत कार्रवाई की बात कही गई है । इस संबंध में पीड़िता की बहन ने बताया कि अब से डेढ़ साल पहले जब लड़की 15 साल की थी उसे दौरे पड़ते थे जो हमने कई जगह इसे दिखाया फिर हमें किसी ने बताया कि राजदंडया गांव में रमेश चंद्र गंगवार नाम से एक डॉक्टर है उसे दिखा दो हम इसे वहां ले गए 15 दिन इसका वहां इलाज चला और जब 10-12 दिन और बीत गए और लड़की की तबीयत ज्यादा खराब होने लगी उसके बाद डॉक्टर ने परिजनों को बताया कि इसके ऊपर कुछ हवा का चक्कर है जिसके बाद तंत्र मंत्र इलाज करने के नाम पर परिजनों से कुछ सामान मंगाया और लड़की को अकेले कमरे में ले जाकर उसके साथ दुष्कर्म किया जब लड़की बदहवास हो गई उसके बाद जब लड़की की मां ने डॉक्टर से पूछा तो डॉक्टर बोला इसे आराम करने दो और फिर कमरे में ले जाकर तंत्र मंत्र के नाम पर वही घिनौना काम किया। पीड़िता की मां के पूछने पर कि उसकी लड़की को क्या हो गया है आरोपी डॉक्टर ने गाली गलौज कर के भगा दिया और फिर पीड़िता के परिजन उसे लेने पहुंचे जिसके बाद डॉक्टर ने सादे कागजों पर उनसे दस्तखत करवा कर लड़की को परिजनों के हवाले किया और कहा कि तुम मेरा कुछ नहीं कर सकते और अब कुछ दिन पहले पीड़िता के परिजनों को कोर्ट के माध्यम से एक नोटिस भेजा गया है जिसमें आरोपी तांत्रिक झोलाछाप डॉक्टर ने खुद को नाबालिग लड़की का पति बताया है और लड़की को अपनी पत्नी होने का दावा कर रहा है जबकि लड़की अभी नाबालिग है।

इस संबंध में क्षेत्राधिकारी श्रीकांत प्रजापति ने बताया कि थाना कोतवाली मिलक के अंतर्गत पूर्णा पुर गांव है जहां महिला के द्वारा शिकायत की गई है उसकी नाबालिग पुत्री के साथ एक तथाकथित झोलाछाप डॉक्टर जो तंत्र क्रिया का काम भी करता है उसके द्वारा दुष्कर्म किया गया है और उसे अपनी पत्नी के रूप में रखा गया इस मामले में तहरीर के आधार पर अभियोग पंजीकृत कर दिया गया है बाकी वैधानिक कार्यवाही की जा रही है, वही क्षेत्राधिकारी ने कहा कि अगर लड़की नाबालिग है तो डॉक्टर द्वारा उसे पत्नी बताना या शादी होना बताना कानूनन जुर्म है फिर भी जो उसके द्वारा शादी की बात कही जा रही है उसकी प्रामाणिकता की जांच की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here