योगी सरकार में संत नहीं सुरक्षित, गोवर्धन पुलिस कर रही है बड़े हादसे का इंतजार ,मुख्यमंत्री पोर्टल पर दो बार शिकायत दर्ज होने के बाद भी नहीं हुआ निस्तारण

मथुरा। प्रदेश की योगी सरकार में अपराधियों के हौसले बुलंद हैं। अपराधियों को सरकार व पुलिस प्रशासन का भय नहीं है। प्रदेश में संत की सरकार होते हुए भी संतो पर अत्याचार रुकने का नाम नहीं ले रहे हैं। मुख्यमंत्री पोर्टल पर दो बार शिकायत दर्ज होने के बाद भी पुलिस कुछ नहीं कर सकी है। जबकि मुख्यमंत्री पोर्टल पर शिकायत का निस्तारण दिखाया जा रहा है। गोवर्धन पुलिस कार्यवाही के नाम पर पीड़ित से फोन पर बात कर कार्य को इतिश्री कर चुकी है। पुलिस पीड़ित महंत के आश्रम तक भी नहीं पहुंची है। पीड़ित महंत थाने व अन्य अधिकारियों के चक्कर लगा कर थक गया है। मंहत की जान को निरंतर खतरा बना हुआ है। शायद पुलिस किसी बड़े हादसे का इंतजार कर रही है। ऐसा ही एक मामला थाना गोवर्धन क्षेत्र राधाकुंड परिक्रमा मार्ग रघुलीला धाम स्थित किशोरी जी धाम आश्रम का है। विदित हो कि आश्रम के महंत नारायण दास रोटी वाले बाबा काफी सालों से प्रतिदिन आश्रम में अन्न क्षेत्र चलाकर प्रतिदिन भूखे लोगों की सेवा कर रहे हैं। यह बाबा रोटी वाले बाबा के नाम से मशहूर हैं। इन्होंने सड़क पर भी लोगों को बिठा कर काफी समय तक भोजन कराया है। नारायण दास रोटी वाले बाबा ने मुख्यमंत्री पोर्टल पर दर्ज शिकायत में कहा कि सुमेर सिंह उर्फ भूरा पुत्र हरिदास गांव हसेला थाना अछनेरा जनपद आगरा 30 जून को आश्रम पर आया। इसने अपना आधार कार्ड दिखाया और आश्रम पर गायों की सेवा के लिए रुकने को कहा , इस पर बाबा ने 3 हजार महीने की पगार में आश्रम में सेवा करने के लिए रख लिया। कुछ दिन बाद इसका व्यवहार बदल गया पता करने पर पता चला कि यह आपराधिक किस्म का व्यक्ति है और आश्रम में सभी लोगों के साथ शराब पीकर अभद्र व्यवहार करने लगा। आश्रम में दूध की चोरी भी करता हुआ पकड़ा गया था। जब इसकी चोरी की बात बाबा को पता पड़ी तो इसने महाराज जी से मारपीट कि व नाक पर घूंसा मार दिया जिससे काफी खून बहने लगा। इसके बाद इसको यहां से हटा दिया गया। 26 जुलाई को सुमेर सिंह आश्रम पर आया ओर बाहर खड़ी मोटरसाइकिल up75f 5538 को लेकर भाग गया। पीड़ित ने इसकी सूचना 112 नंबर पर दी। पुलिस के जाने के बाद सुमेर सिंह नशे की हालत में फिर आश्रम आया और बाबा से चौथ के रूप में हफ्ता वसूली की मांग कर गाली गलौज करते हुए जान से मारने की धमकी दी। इसके हाथ में तमंचा भी लगा हुआ था। सुमेर सिंह ने बाबा के मोबाइल पर भी जान से मारने की धमकी दी है। सुमेर सिंह आश्रम पर आकर कई बार तोड़फोड़ व यहां रहने वाले लोगों के साथ मारपीट कर चुका है। आश्रम में से टोटियों को भी चोरी कर ले गया है। सुमेर सिंह एक बार टेंपो नंबर यूपी 85 at 8389 को लेकर आया और आश्रम पर उत्पात मचाया जिसकी सूचना 112 नंबर पुलिस को दी गई। सूचना पर पहुंची पुलिस के चंगुल से भी छूट कर भाग गया। नारायण बाबा ने बताया कि इस मामले में अभी तक कोई कार्यवाही नहीं हुई है दो बार मुख्यमंत्री पोर्टल के अलावा एसपी व थाना अध्यक्ष को सूचना दी गई है। पीड़ित को जान व माल का खतरा हमेशा बना हुआ है। सुमेर सिंह परिक्रमा मार्ग में आश्रम में रहता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here