एंकर- बुधवार दोपहर पापा संस्था द्वारा शासन के आदेश को जनहित में जारी करने के लिए संस्था के सभी सदस्य संजय पैलेस स्थित स्पीड कलर लैब के सामने एकत्रित होकर स्कूल संचालक द्वारा फीस वसूलने को लेकर अभिभावकों को जागरूक किया।

vo..19 से पूरा देश प्रभावित हुआ है। बिजनेसमैन से लेकर ठेल वाले तक आर्थिक संकट से जूझ रहे हैं। ऐसे में ताजनगरी के अंदर स्कूल संचालक पेरेंट्स से फीस वसूली अभियान चला रहे हैं। कोरोना काल के तीन माह की फीस माफ कराने के लिए पेरेंट्स शहर में अनोखा आंदोलन कर रहे हैं। फीस माफ कराने की मुहिम को देखते हुए। अभिभावकों को पापा संस्था का भी भरपूर समर्थन मिल रहा है। इसी को ध्यान में रखते हुए पापा संस्थान के सदस्यों ने संजय प्लेस स्थित स्पीड कलर लैब के सामने शासन के आदेश को जनहित में जारी किया और स्कूल संचालक द्वारा फीस वसूलने को लेकर लोगों को जागरूक किया। ऐसे में अभिभावकों की तरफ से आगरा में शुरू हुई ‘पापा संस्था की मुहिम को अपार जन समर्थन मिल रहा है और लोग इससे लगातार जुड़ रहे हैं। पापा संस्था को मिल रहे जन समर्थन को देखते हुए स्कूल संचालकों की तरफ से दीपक सरीन की बेटी का पोस्टर जारी करके ओछी हरकतों पर उतर आए हैं। पापा संस्था के सदस्यों का कहना है कि कोविड-19 में हुए लॉकडाउन के चलते शहर का हर व्यक्ति परेशानी से जूझ रहा है। ऐसे में स्कूल संचालक द्वारा अभिभावकों पर शासन के आदेश आने के बावजूद भी दबाव बनाया जा रहा है । और शासन के आदेशों धज्जियां उड़ाते हुए नजर आ रहे हैं, इसी को ध्यान में रखते हुए पापा संस्था के सदस्यों ने अभिभावकों के लिए स्कूल से जुड़ी किसी भी समस्या के समाधान को लेकर संस्था ने व्हाट्सएप नंबर जारी किया है जिससे  परेशान अभिभावक अपनी परेशानी भेज सकते हैं ताकि संस्था द्वारा तुरंत उनके संदेशों को संज्ञान में लेकर एवं उचित जांच कराकर समाधान कराने में अभिभावकों की मदद करेंगे, शासन की आदेश को माने तो परिस्थितियों एवं आर्थिक कठिनाइयों की दृष्टिकोण से अभिभावक संपत्ति शुल्क जमा करने में अपने आप को असमर्थ पाते के दौरान परिस्थितियों का उल्लेख करते हुए एक लिखित प्रार्थना पत्र संबंधित विद्यालयों व प्रधानाचार्य के समक्ष प्रस्तुत किया किया जाए तथा इस प्रार्थना पत्र पर सकारात्मक रूप से विचार करते हुए आसान किस्तों में शुल्क लिया जाए। यदि तब भी किसी अभिभावक द्वारा शुल्क जमा नहीं किया जाता तो उस छात्र को ऑनलाइन क्लास से वंचित ना किया जाए और ना ही इस आधार पर किसी छात्र का नाम विद्यालय से काटा जाए लेकिन इसके बावजूद भी ताज नगरी में स्कूल संचालक फीस जमा ना होने के अभिभावकों पर दबाव डालकर विद्यालय से नाम काटने की धमकी दी जाती है।
रिपोटर–हरीश यादव कैमरा– अर्जुन सिंह

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here