बरेली के थाना शाही क्षेत्र के गांव कुलछा गौटिया में उस समय हड़कंप मच गया जब किसान नेता लाखन राम की पत्नी नत्थो की रंजिश में पीट पीट कर हत्या कर दी गई। बताया जाता है कि यह घटना तब हुई जब नत्थो देवी चाय पत्ती खरीदने दुकान जा रही थी। जानकारी के मुताबिक लाखन राम का अपने भाई से पुराना कोई विवाद था। जिसकी बरेली कोर्ट में सुनवाई भी चल रही है। लाखनराम का भाई और उसके बेटे नत्थो देवी पर मुकदमा वापस लेने का दबाव बना रहे थे। लेकिन नत्थो देवी किसी भी हालत में मुकदमा वापस लेने को तैयार नहीं थी। इसी रंजिश में नत्थो देवी की सगे देवर और देवरानी सहित दो बेटों ने लाठी डंडों और लात घूंसों से जमकर मारा पीटा। जिसके चलते नत्थो देवी की मौत अस्पताल ले जाते समय हो गई। पुलिस ने मामले पर कार्यवाही करते हुए चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया साथ ही शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। वही घटना से मृतिका के परिवार में कोहराम मचा हुआ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here