नाबालिक बच्ची के साथ दुष्कर्म करने वाले आरोपी सिपाही मनोज रस्तोगी को आज पुलिस ने जेल भेज दिया है।

मनोज रस्तोगी पर दुष्कर्म व मारपीट का मुकदमा दर्द था।
इसी में
कार्यवाही करते हुए पुलिस ने तत्काल प्रभाव मनोज रस्तोगी को जेल भेज दिया है।

हालांकि मनोज रस्तोगी ने अपने आप को बेकसूर बताया है।

दरअसल बिजनौर थाना कोतवाली शहर में तैनात रहे सिपाही मनोज रस्तोगी की कहानी बड़ी दिलचस्प है।
मनोज रस्तोगी हमेशा विवादों में रहे हैं ।
कुछ दिन पूर्व बिजनौर निवासी एक महिला ने सिपाही मनोज रस्तोगी पर अपनी नाबालिग पुत्री के साथ दुष्कर्म का आरोप लगाया था।

जिसमें पुलिस ने देरी ना करते हुए तत्काल दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज किया था।
कुछ दिन बाद पीड़ित महिला ने मनोज रस्तोगी पर फिर से मारपीट का आरोप लगाते हुए थाने में तहरीर दी थी।
पीड़ित महिला की दूसरी तहरीर पर भी पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया था।

इस बीच आरोपी मनोज रस्तोगी ने हाईकोर्ट का सहारा लिया।

लेकिन मनोज रस्तोगी को हाईकोर्ट से भी राहत नहीं मिली तब जाकर सिपाही मनोज रस्तोगी ने थाना कोतवाली शहर में सरेंडर कर दिया।

पुलिस ने मनोज रस्तोगी को जेल भेज दिया है।
हालांकि इस पूरे मामले में आरोपी सिपाही मनोज रस्तोगी ने अपने आप को बेकसूर बताया है।

एसपी धर्मवीर सिंह ने बताया कि आरोपी मनोज रस्तोगी को जेल भेज दिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here