छोटी उकावद गांव में आदिवासी को जलाकर मार देने की ह्रदय विदारक घटना के मामले में भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी का प्रतिनिधिमंडल जिला जिला सचिव मनोहर मिरोटा के नेतृत्व में पीड़ित परिवार से मिलने पहुँचा।
एंकर — गुना भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के जिला परिषद सदस्य एवं किसान सभा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष योगेंद्र शर्मा ने रावत गांव में हुई रे बैरागी सारा घटना के विरोध मेंकहा की साहूकारों के द्वारा लोगों को इसी तरह परेशान किया जाता रहा है लोगों को गांव में बंधुआ मजदूर बनाकर उनसे काम कराया जाता है, और कर्जा देकर ब्याज पर ब्याज लगाकर कर्ज के बोझ तले दबा दिया जाता है जिसको लेकर विजय आदिवासी को अकावद के ही एक दबंग व्यक्ति ने केरोसिन डालकर आग लगा दी उसकी उपचार के दौरान मृत्यु हो गई वैसे शासन द्वारा वक्त मृतक परिवार को अनुसूचित जाति के मामले को ध्यान में रखते हुए परिवार को उक्त राशि तो दिलवा दी है कम्युनिस्ट पार्टी अखिल भारतीय नौजवान सभा द्वारा जिला प्रशासन को संबंधित खरीदारों की बकायदा सूची उपलब्ध करा दी थी इसके बाद भी आज तक किसी भी सूदखोर पर कार्रवाई नहीं की गई है वहीं ग्रामीण क्षेत्र में लोगों को बंधुआ मजदूर बनाकर काम कराया जाता है ,और पैसे मांगने के मामले में इस तरीके की घटनाएं सामने आ जाती हैं आज भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी का प्रतिनिधि मंडल भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के जिला सचिव एवं बमोरी विधानसभा के प्रत्याशी मनोहर मेरोठा के नेतृत्व में विधानसभा क्षेत्र के गांव में विजय सिंह आदिवासी के परिवार से मिलेने पहुंचा गुना जिला सहित ग्रामीण क्षेत्रों में उक्त साहूकारों ने ना जाने कितने लोगों के साथ इस तरह से प्रताड़ित किया जाता है जिससे, परेशान होकर कई तो घर छोड़ने के लिए मजबूर कर दिये जाते है योगेंद्र शर्मा ने बताया कि उक्त साहूकारों के मामले में गुना डीएम के पास उक्त प्रकरण चल रहा है परंतु पुलिस द्वारा या जिला प्रशासन द्वारा आज तक किसी भी साहूकार पर कोई कार्यवाही नहीं की गई है इसलिए दोबारा इस केस की पुनरावृत्ति ना हो या दोबारा कोई व्यक्ति के साथ घटना घटित ना हो

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here